Author - pawan wagh

New Paper Pattern for 9th, 10th, 11th and 12th

नमस्कार दोस्तों
क्लास 9th  क्लास से 12th का नया पेपर पेटर्न आफ से शेयर कर रहा हूं. इसमें आपको सभी विषयों की जानकारी मिलेगी, साथ ही में आपको कुछ विषयों का चैप्टर वाइज मार्किंग सिस्टम भी मिलेगा  और 11th और 12th के प्रैक्टिकल की जानकारी मिलेगी. नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करके आपको पूरी जानकारी प्राप्त होगी.  तो नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कीजिए और अपना नया पेपर पेटर्न प्राप्त कीजिए

9th & 10th New Paper Patter Maharashtra Board ( Kruti Aarakhadaa)

11 व 12वी मुल्यमापन New Paper Pattern

11th-Arts Science-Maths-Practicals

Read more...

Class 11th Practical Details for Commerce and Science

This is very important update for all the class 11th students, it is useful for arts, science and Commerce students. Just go to the list and try to solve all these spectacles. It depends on your teachers, how they are going to complete this very important list of the practicals. I hope you will like it, just click the following link and download the list.
As I get new update I will definitely share with you…. Just keep yourself busy in studies because that will make your future bright.

 

  1. Class 11th Arts & Science Mathematics Practical List
  2. Class 11th Commerce Mathematics Practical List
Read more...

वह क्या है जो आपको सफल बनाता है?

सफलता के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है हमारे मन में उस वस्तु को पाने की इच्छा, और उस इच्छा को पूर्ण करने के लिए कार्य करने की तैयारी| लोग सपने बहुत देखते हैं, हर दिन एक नया सपना देखते हैं, हर दिन एक नई चीज को पाने की चाह रखते हैं,लेकिन मेहनत करना कोई नहीं चाहता | जो मेहनत करना चाहते हैं रास्ते उन्हीं के लिए खुले होते हैं, सफलता उनके पीछे भागते हुए आती है क्योंकि उनका नजरिया अपने कार्य के प्रति बहुत अलग होता है |
सफल होने वाले लोग अपने कार्यों को एक उचित क्रम में लगाकर रखते हैं, वे अच्छे से जानते हैं कि उन्हें आज क्या करना है और कल क्या करना है, मैं यह कहना चाहता हूं कि वह अपने काम को क्रम से करते हैं, हर चीज एक उत्कृष्ट प्लानिंग से करते हैं , चलिए मैं आपको एक कहानी बताता हूं
यह कहानी है दो दोस्तों की, जो एक साथ पढ़ते थे, एक का नाम था राज और दूसरा जॉन, राज और जॉन दोनों अपने जीवन में सफल होना चाहते थे, ऊंचाइयों पर पहुंचना चाहते थे, राज हर दिन सपने देखता, लेकिन अगले दिन, उन सपनों को भूल जाता और अगले दिन, एक नई दिन के साथ और एक नया सपना देखता, जबकि जॉन इसके बिल्कुल विपरीत स्वभाव वाला था | जॉन बड़े सपने देखता और उन सपनों को पूरा करने के लिए हमेशा सोचता और उन पर काम करता | समय बीतता गया, स्कूल के दिन पूरे हुए, और उन्होंने अलग-अलग कॉलेजों में एडमिशन लिया, इससे वे अब एक-दूसरे से दूर हो चुके थे | राज धीरे-धीरे आलसी होता, अब वो सपने भी नहीं देखता क्योंकि उसे लगता कि वह जीवन में कुछ नहीं कर सकता है | वह न तो मेहनत करता, ना ही सपने देखता, धीरे धीरे कॉलेज का समय भी पूरा हुआ, राज के व्यवहार के कारण राज ने कोई बहुत अच्छा रिजल्ट नहीं बनाया था, जिसके कारण उसे एक छोटे से ऑफिस में बहुत कम सैलरी पर काम करने लगा | समय बीता जा रहा था, राज कई बार जॉन के बारे में सोचता, मेरा दोस्त कैसा होगा? वह कहां होगा? क्या वो मुझे भूल गया? और बहुत सारी बातें उसके मन में हर दिन आती……
जॉन और राज जिस स्कूल में साथ में पढ़ते थे, उस स्कूल में अपने सभी पूर्व विद्यार्थियों को, एक कार्यक्रम में निमंत्रित किया | लेकिन इस पर दो तरह के निमंत्रण थे, जो विद्यार्थी अपने जीवन में सफलता की ऊंचाई पर पहुंच चुके थे, स्कूल प्रबंधन उन्हें सम्मानित करना चाहता था जॉन से मिलेगा और इसीलिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया | सभी विद्यार्थियों की तरह राज भी वहां पहुंचा, वह जानता था कि वह आज जॉन से मिलेगा | राज स्कूल के गेट में जा ही रहा था कि उसे देखा, बहुत बड़ी महंगी गाड़ी आई उसके पास आकर रुकी और उसने देखा उस गाड़ी में और कोई नहीं, जॉन था| जॉन में गाड़ी से उतरते ही राज को गले लगा लिया, और कहा कैसा है दोस्त? जब तक दोनों दोस्त अपनी बात शुरू करते तब तक विद्यालय प्रबंधन के कुछ लोग जॉन को लेने गेट पर पहुंचे, जॉन ने राज् से कहा थोड़ी देर बाद मिलते हैं| डॉन एक बहुत बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी का सीईओ था, स्कूल प्रबंधन उसकी सफलता पर बहुत खुश था और उस कार्यक्रम में जॉन का सत्कार आयोजित किया गया था, कई कार्यक्रम के अनुसार जॉन का सत्कार हुआ और राज यह सब देख कर दुखी था, उसके मन में यह सवाल थे कि यह कैसे संभव हुआ, हम तो एक साथ ही पढ़ते थे एक जैसे ही थे फिर जॉन इतना आगे कैसे बढ़ गया?
कार्यक्रम खत्म होने के बाद दोनों दोस्त मिले, राज के मन में बहुत सारे सवाल थे और जॉन के चेहरे की खुशी बहुत ही प्रभावित कर देने वाली थी| राज ने जॉन से पूछा, कि यार यह सब कैसे संभव हुआ? तू कैसे इतना बड़ा इंसान बना, जॉन ने कहा, हम दोनों एक साथ ही सपने देखते थे, लेकिन तुम हर दिन एक नया सपना देखते हैं और पिछले दिन के सपने को भूल जाते हैं, जबकि मैंने एक ही सपना देखा था कि मुझे अपनी पूरी ताकत, अपनी पढ़ाई पर लगानी है और एक अच्छे कॉलेज में मुझे दाखिला लेना है| दिन-रात की मेहनत की बाद एक अच्छे कॉलेज में मुझे एडमिशन मिला, और उसके बाद मैंने अपनी पूरी ताकत पढ़ाई में लगा दी | जब सभी दोस्त, घूमते फिरते रहते, खेलते रहते, मोबाइल में अपना वक्त गुजारा करते, मैं उस समय सिर्फ अपनी पढ़ाई में अपना ध्यान देता |
मेरी सफलता के मुख्य कारण है
1. मेरे बड़े सपने देखे
2. उन सपनों को पूरा करने के लिए मैंने अलग-अलग योजनाएं बनाई
3. उन योजनाओं को छोटे-छोटे भागों में विभाजित किया
4. हर दिन को एक काम दिया और उसे हर परिस्थिति में पूरा किया
5. समय का सदुपयोग किया, दोस्त मोबाइल खेलते, मैं अपना समय अपने काम में लगाता.
6. हमेशा सक्रिय रहता था और अपने काम को कौन-कौन से अलग तरीके से मैं कर सकता हूं, यह सोचता|
7. मैंने नकारात्मक विचारों को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया |
8. मैंने अपनी परिस्थिति का रोना किसी के साथ नहीं रोया,
9. बस जो सामने आता गया उसे पूरा करता गया,
मेरी यह ऊपर की नो आदतें ही मेरी ताकत है, इसके कारण मैं यहां तक पहुंचा हूं और मैं जानता हूं कि अगर तुम भी अपने जीवन में जरूर सफल होगे | एक बड़ा सपना देखो, और उसे पूरा करने में दिलो जान से लग जाओ |
मैं आज भी स्कूल के बच्चों को देखता हूं जो पढ़ाई में बहुत अच्छे नहीं हैं लेकिन वे खुद को कमजोर समझते हैं और इसीलिए वह जीवन में सफल नहीं हो पाते, भगवान ने हम सब को एक जैसा बनाया है, हम खुद को कम समझकर उस ईश्वर का अपमान करते हैं |
अगर जिंदगी में आगे बढ़ना है तो बड़े सपने देखो, मेहनत करो, हर दिन मेहनत करो और इतनी मेहनत करो कि ऊपर वाला भी तुम्हारी मेहनत के आगे हार जाए | मुझे लगता है राज तुम समझ चुके होंगे मैं क्या कहना चाहता हूं? तुमने अपना बहुत समय गवा दिया लेकिन कोई बात नहीं आने वाला समय तुम्हारा है, तुम अपने जीवन में जरुर सफल होंगे अगर इन 9 मंत्रों को ध्यान रखो |

दोस्तों आपको यह कहानी कैसी लगी अपनी राय जरूर दीजिए, धन्यवाद |

Read more...

Class 10th SSC Time Table of March 2020 Exam

There is a good news for you, now you can start your study because your class 10th examination timetable of March 2020 has been finalized by the Maharashtra education board. Just go through the following link, download it and check when and on what date do you have your exam. One more thing I want to share here, this is the temporary timetable, there will be some changes, in the month of December you will get, the updated version of the time table. But still if you want to start your study, you can plan according to the time table. Download it and check it

Class 10th Exam Time Table Mar-2020

Read more...

आज की बात – 1. लक्ष्य ही सर्वोपरि है

लक्ष्य ही सर्वोपरि है
दोस्तों आज की बात का शीर्षक है ” लक्ष्य ही सर्वोपरि है ” | लोगों का जीवन लक्ष्य के बिना उस नाव की तरह है, जो समुद्र के पानी में खो गई है| क्या आप अपने जीवन को इस तरह की नाव बनाना चाहते? मैं जानता हूं आपका उत्तर क्या है |
जीवन में सफलता उस व्यक्ति को प्राप्त होती है, जो हमेशा अपने लक्ष्य को अपने सामने रखता है, वह लक्ष्य आप को चैन से सोने नहीं देता, वह लक्ष्य आप में हर वक्त ऊर्जा का संचार करता है, वह लक्ष्य आपको ऊंचाइयों तक ले जाता है, लेकिन लक्ष्य न हो तो जीवन व्यर्थ है | जी हां दोस्तों, आप में से बहुत से लोग अपने जीवन की अलग-अलग परीक्षाओं की तैयारी कर रहे होंगे, पर क्या आपने आपकी परीक्षा का कुछ लक्ष्य निर्धारित किया है? अगर नहीं किया है, तो आज ही कर ले, और आपके रूम में बड़े अक्षरों में उसे आपके सामने लगा दे | वह वाक्य, वह सपना आपका लक्ष्य आपको बहुत आगे लेकर जाएगा | तो मित्रों, एक बड़ा सपना देखो, और खुद को उस सपने को पूरा करने में लगा दो | जब तक आपका लक्ष्य आपके सामने नहीं होगा, तब तक आप जीवन में कुछ नहीं कर पाएंगे |


आप सभी को महाभारत की कहानी पता है, द्रोणाचार्य की कक्षा में सभी विद्यार्थियों से जब द्रोणाचार्य ने पूछा, तुम्हें क्या दिखाई दे रहा है? सब लोगों के अलग-अलग जवाब थे, परंतु अर्जुन का जवाब था ” गुरुदेव, मुझे चिड़िया की आंख दिखाई दे रही है”. अर्जुन की तरह ही आप भी अपने लक्ष्य को आपके सामने रखिए और पूरी मेहनत से लग जाएगी उसे पाने के लिए|

हर दिन में आपके लिए इस तरह के एक छोटी सी पोस्ट लेकर आऊंगा, जो आप में आत्मविश्वास भर देगी, आशा करता हूं आपको आज की पोस्ट पसंद आई होगी, अपनी राय अवश्य दीजिए, धन्यवाद!!

Read more...

11th & 12th New Syllabus

महाराष्ट्र बोर्ड ने क्लास 11th और 12th के लिए competency statement जाहिर कर दिया है. इसका अर्थ यह है कि इस डॉक्यूमेंट में टेक्स्ट बुक पढ़ने के बाद क्लास 11th और 12th के स्टूडेंट्स इस तरह के प्रश्नों को solve कर पाएंगे..
तो 11th और 12th के इस नए सिलेबस को जानने के लिए नीचे दिए हुए डॉक्यूमेंट को डाउनलोड करें. हर बुक के शुरुआत में competency statement दिए जाते हैं जिससे बच्चों में यह क्षमताए विकसित हो सके

 

11th & 12th Physics new Syllabus 2019

11th & 12th Bio New Syllabus Art & Science Paper

11th Mathematics New Syllabus Art & Science Paper 1

11th Mathematics New Syllabus Art & Science Paper 2

Read more...

Why do make silly mistakes in exam?

Our exam results depend on our attitude before exam. Some students are very good in studies but before exam they feel tensed and because of this tension their results come down. During examination they make silly mistakes and this results lower marks in Exam.
How should we behave during examination? What should be our planning? Why do we afraid with the exam?

You will get answers of all these questions here.
We afraid before the exam because we feel that we did not prepare wholeheartedly, if there is 0.001% fear in your brain for the exam, you will never score out of Marks. If you want to score out of marks you need to be positive, you need to be confident enough. You are thinking process decides your attitude during examination. While entering in the room if you feel tensed, then you will definitely make lots of mistakes in the examination. You need to enter in exam hall with full confidence and full enthusiasm there should be feeling in a brain that I have put my heart and soul, the whole year I studied wholeheartedly, I have practiced enough for the examination and this will definitely help me in the exam. I will definitely score out of marks.

Try to follow following points.
1. Believe in yourself .
2. Do not bring any negative thought.
3. Try to revise properly.
4. Keep your confidence level high.
5. Always be positive not only for this exam but also for the whole life.
6. If you believe in God, then leave everything on him. But remember  “God helps those who help themselves.”
7. Meditation will definitely help you.                                                                                                                                                      8.  Always believe on our Karma. Because Karma is in our hand.

Follow all the points which I have mentioned above, first you have to fight with yourself and you have to beat your here then only you can score out of marks. If you are unable to beat your fear then you can never show out of marks. I hope this article will help you to bring necessary changes in your attitude which will help you to score good marks.
Best of luck for the exam

Read more...

Best of Five System for Class 10th Maharashtra board Students

There are main 6 subjects in class 10th Maharashtra Board, they are English, Marathi, Hindi or Sanskrit , mathematics (includes math 1 and Math ), science which includes science 1 and Science 2 and Social studies.

The board consider 5 top subjects in which student score more marks and then the percentage of the student is calculated. For example a student scores in

Marathi 90

Hindi 90

English 89

Mathematics (I + II) 100

Science(I+II)  95

Social Studies 70

In the above case first five subjects having more marks and in social science student scored the lowest marks so while calculating the percentage of the student first five subjects will be taken and percentage will be calculated.

Most of the students feel that best of five scheme or system has been changed by board but there is no such year about changing in this system. So this here it is also available best of 5 system is available this year.

Read more...

Workshop at R C Patel Pharmacy College ( Date- 20 Jan 2019)

Today it was a memorable day of my life, I took a workshop organised by SES at RC Patel Pharmacy collage for class 10th students. Students were eagerly waiting for my session and they clear all the doubts regarding mathematics. This is because of my YouTube channel, all these students are following me from last April. Student enjoyed the session . The best thing of this session is, the session started at 11am in the morning and concluded at 2:30pm . Thanks SES

 

Read more...